हेपाटोग्लोबिन सिरप (Hepatoglobine Syrup) : उपयोग, साइड इफ़ेक्ट & सावधानियां

Written by Oye Zindagi Team

Updated on:

Hepatoglobine Syrup Uses in Hindi : हेपाटोग्लोबिन सिरप भारत के मुंबई शहर में स्थित Raptakos, Brett & Co. Ltd. द्वारा बनाया जाने वाला एक आयुर्वेदिक सिरप है। यह हेपाटोग्लोबिन सिरप आमतौर पर रक्त की कमी, आयरन की कमी, पाचन समस्याएं और एनीमिया जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायता करता है। हेपाटोग्लोबिन सिरप एक शक्तिशाली फार्मूला है जो शरीर में विभिन्न प्रकार के खनिजों की कमी को दूर करता है, जो कि शरीर के लिए आवश्यक होते हैं।

हेपाटोग्लोबिन सिरप के मुख्य तत्वों में आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन बी12, शंखपुष्पी, कांचनार गुग्गुल और कलमेघ शामिल हैं। इसके अलावा, हेपाटोग्लोबिन सिरप आयुर्वेदिक अर्क जैसे अन्य पौष्टिक तत्वों का भी उपयोग करता है।

हेपाटोग्लोबिन सिरप संक्रमण से लड़ने में भी मदद करता है और शरीर की कमजोरी को दूर करता है। यह शरीर के ऊर्जा स्तर को बढ़ाता है और व्यक्ति को तंदुरुस्त बनाए रखने में मदद करता है। इसे नियमित रूप से उपयोग करने से प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ती है और स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।

Hepatoglobine Syrup Uses in Hindi  / उपयोग  

मानव शरीर को स्वस्थ रखने में दवाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। दवाओं का उपयोग हमें समस्याओं को ठीक करने में हमारी मदद करता है और स्वस्थ बनाने में भी मदद करता है। इसी तरह, हेपाटोग्लोबिन सिरप भी अनेक समस्याओं में उपयोग किया जाता है, जो इस प्रकार है :

  • पाचन विकार
  • एनीमिया
  • आयरन की कमी
  • खून की कमी
  • थकान और कमजोरी
  • जिगर की समस्याएं
  • श्वसन विकार

ये भी पढ़े : एडलिव सिरप : उपयोग, दुष्प्रभाव, चेताबनी, कीमत और अन्य जानकारी

हेपाटोग्लोबिन सिरप विभिन्न साइज और फॉर्म में उपलब्ध है। आप इसे एक डॉक्टर की सलाह लेकर या मेडिकल स्टोर से खरीद कर सकते हैं। हेपाटोग्लोबिन सिरप की कीमत विभिन्न स्थानों पर भिन्न भिन्न होती है।

संयोजक / Composition

दवा में मौजूद सक्रिय तत्व का अहम योगदान किसी भी समस्या के समाधान में होता है। इस दवा में कुछ सक्रिय तत्व होते हैं जो निम्नलिखित हैं –

सक्रिय तत्व मात्रा
अल्कोहल 3%
एलिमेंटल आयरन 95 एमजी
फेरस अमोनियम साइट्रेट 34 एमजी
फोलिक एसिड 17 एमजी
लिवर फ्रैक्शन 40 एमजी
पेप्टोन 20 एमजी

हेपाटोग्लोबिन सिरप कैसे काम करता है?

हेपाटोग्लोबिन सिरप में मौजूद सक्रिय तत्व शरीर में विभिन्न क्रियाओं को संचालित करते हुए आमिनो एसिड जैसे inhibitory neurotransmitter gamma-aminobutyric acid को बढ़ाता है। इसके अलावा, यह लोहे की कमी को पूरा करता है, रक्त कोशिकाओं और प्लेटलेट्स का निर्माण करता है जो रक्त का प्रभावशाली तत्व होते हैं। दवा शरीर में ऑक्सीजन को विनियमित करने के लिए आहार पूरक के रूप में काम करता है।

ये भी पढ़े : शहद के फायदे

Hepatoglobine Syrup Side Effect in Hindi / साइड इफ़ेक्ट

आपने कभी न कभी बुजुर्गों की अक्सर एक कहावत जरूर सुनी होगी कि, “सिक्के के दो पहलू होते हैं”, जिसका अर्थ है कि जो चीज हमें लाभ प्रदान कर रही है, वह हमें कुछ हानि भी पहुंचा सकती है। ठीक उसी तरह, हेपाटोग्लोबिन सिरप हमारे शरीर को लाभ पहुंचाने के साथ-साथ, कभी-कभी नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है। इस दवा से होने वाले संभावित नकारात्मक प्रभावों में निम्नलिखित साइड इफ़ेक्ट शामिल हो सकते हैं। इनमें से किसी भी समस्या का सामना करने पर, आपको इस हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन बंद कर देना चाहिए और तुरंत अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।

  • हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन के बाद त्वचा पर खुजली या लाल चकते का होना। 
  • पेट में दर्द का होना। 
  • दस्त का होना 
  • कमजोड़ी का एहसास होना। 
  • पेट का फुलना। 
  • जी का मचलाना। 
  • उलटी का होना। 
  • सर में तेज दर्द का होना। 

सावधानियां / Precaution

आपको हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन करने से पहले इससे संबंधित सावधानियों को जानना बहुत जरूरी है। इस दवा का सेवन करते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। यह आपको कई अनचाहे घटनाओं से सुरक्षित रख सकता है।

  • सबसे पहले, आपको डॉक्टर की सलाह पर ही दवा का सेवन करना चाहिए।
  • अगर आप किसी भी दवा का सेवन कर रहे हैं, तो आपको इस बारे में अपने डॉक्टर को जानकारी देनी चाहिए।
  • अगर आपको किसी दवा से एलर्जी होती है, तो आपको इस बात को भी अपने डॉक्टर से साझा करना चाहिए।
  • अगर कोई महिला गर्भवती है या गर्भ धारण करने की योजना बना रही है या स्तनपान कराती है, तो वह इस दवा का सेवन केवल अपने डॉक्टर की सलाह पर ही करे।
  • आपको दवा का इस्तेमाल करने से पहले डब्बे पर लिखे निर्देशों को अवश्य पढ़ना चाहिए।
  • सेवन के उपरांत सिरप के ढक्कन को अच्छे से बंद करे और बच्चे एवं पालतू जानवरों के पहुच से दूर रखे। 

कीमत / Price

हेपाटोग्लोबिन सिरप बाजार में आसानी से मिलता है, उसे आप 300 मिलीलीटर और 450 मिलीलीटर के पैकेज में प्राप्त कर सकते हैं। इसकी कीमत 63 रुपये और 86 रुपये है, आप जैसे चाहें वैसा पैकेज चुन सकते हैं। यह दवा आपकी स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकती है और आपकी सेहत को बनाए रखने में सहायता पहुँचा सकती है। लेकिन, इसे उपयोग करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए और उनकी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए।

Frequently Asked Questions

Q. क्या हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन सुरक्षित है ?

A. हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन डॉक्टर के परामर्श पर ही किया जाना चाहिए। 

Q. हेपाटोग्लोबिन सिरप का इस्तेमाल एक दिन में कितने बार किया जाना चाहिए ?

A. इस दवा का इस्तेमाल दवा पर दिए गये निर्देश या डॉक्टर निर्देश के अनुसार ही इस्तेमाल कर सकते है। 

Q. दवा का सेवन कब करना चाहिए, भोजन से पहले या भोजन के बाद ?

A. दवा का सेवन भोजन के उपरांत करे, यानि कि 10 min बाद। 

Q. हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन गर्भवती महिलाओ के द्वारा किया जाना चाहिए या नहीं?

A. इन परिस्थितियों में डॉक्टर के परामर्श के बिना किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। 

Q. क्या हेपाटोग्लोबिन सिरप का इस्तेमाल स्तनपान करने के दौरान सुरक्षित है ?

A. इस अवधि में हेपाटोग्लोबिन सिरप का सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य ले। 

4 thoughts on “हेपाटोग्लोबिन सिरप (Hepatoglobine Syrup) : उपयोग, साइड इफ़ेक्ट & सावधानियां”

  1. Hey there! Someone in my Facebook group shared this site with
    us so I came to look it over. I’m definitely enjoying the information. I’m bookmarking and will be tweeting this to
    my followers! Wonderful blog and great design and style.

    Feel free to surf to my website vpn special coupon

    Reply

Leave a Comment