Baby Health Care: बेबी के पेट में बन जाए गैस, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

Written by Oye Zindagi Team

Published on:

​Baby Health Care in Hindi: बच्चा जब बहुत छोटा (newborn baby) होता है यानि कुछ सप्ताह का तो उसका ख्याल (Care) रखना काफी मुश्किल भरा होता है। जन्म के शुरुआती दो तीन महीने तो बहुत ही नाजुक होते हैं। यही वो समय होता है जब बच्चों की आंतों का विकास हो रहा होता है। 

यही कारण होता है की उनके पेट में गैस बनना आम बात हो जाती है। वहीं, जब शिशु की उम्र 6 माह की हो जाती है तो उसे खाने से लिए ऊपर से कुछ दिया जाने लगता है। जिसकी वजह से भी उनके पेट में गैस बनने लगती है। आज की पोस्ट में हम इसी समस्या (Baby Health Care) के बारे में विस्तृत चर्चा करने वाले है। 

Baby Health Care in Hindi

छोटे शिशुओं के पेट में गैस कई कारणों से बन सकती है। जैसे जल्दी फार्मूला पीना, निप्पल सही ढंग से ना देना, दूध पीने के दौरान डकार ना दिलाना या फिर मां के खान पान का असर आदि। लेकिन जब भी आपके बच्चे को इस तरह की दिक्कत पेश आए, सीधे ही बच्चे को दवा ना दें। बल्कि आप ये घरेलू उपाय आजमा सकती है।

ग्राइप वॉटर (Gripe water for Baby)

ग्राइप वॉटर शिशु के पेट को गर्माहट पहुंचा कर गैस को बाहर निकालने का काम करता है। लेकिन इसे पिलाने से पहले आप डॉक्टर की सलाह अवश्य ले लें। हालांकि, इसमें जड़ी बूटियां (Herbs) भी मिली हुई होती हैं जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी फायदेमंद होती है।

बेबी को डकार दिलाना (Belching baby)

बेबी के पेट की गैस का सबसे अच्छा इलाज है उसे डकार (Belching) दिलाना। याद रखें, जब भी बच्चे को दूध पिलाएँ, उसके बाद उसे डकार दिलाना बहुत जरुरी होता है। बच्चे को दूध पिलाकर, अपने कंधे पर उसका सिर रखकर हल्के हाथों से उसकी पीठ थपथपाएं। जब तक बच्चा डकार ना ले लें, थपथपाते रहें।

पुरानी बोतल बदलें

अगर बच्चे को बार बार गैस बन रही हो, और आपको कारण समझ नहीं आ रहा हो तो उसके दूध पीने वाली बोतल पर ध्यान दें। अगर निप्पल का छेद बड़ा हो गया हो, या फिर बोतल अधिक बड़ी हो और आप दूध की मात्रा कम रखती हो तो बोतल जरूर बादल लें। क्योंकि बड़ी बोतल में हवा के लिए अधिक स्थान होता है और दूध के साथ ही बच्चे के पेट में हवा जाने के कारण भी ऐसी ही दिक्कत हो जाती है।

बेबी को लिटाएँ पीठ के बल

शिशु को गैस की परेशानी से बचाने के लिए पीठ के बल लिटाना भी एक कामयाब नुस्खा माना जाता है। लेकिन ऐसा केवल एक दो मिनट के लिए ही करें। अधिक देर तक बच्चे को पीठ के बल ना लिटाएँ।

​हींग दिलाये रिलीफ़

पेट की गैस से राहत दिलाने के लिए हींग काफी मदद करती है। अगर आपके बच्चे के पेट में भी गैस बन रही है तो हींग का गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को बच्चे के नाभि में और उसके आसपास लगाएं। इससे शिशु को पेट की गैस से राहत मिलेगी।

डॉक्टर से करें संपर्क (Contact a doctor)

अगर इतना कुछ करने के बाद भी बच्चे को पेट गैस की समस्या से राहत नहीं मिल रही हो तो, डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। कई बार गैस की दिक्कत के साथ ही बच्चे को उल्टी, दस्त और बिखार जैसी दिक्कत भी हो जाती है। ऐसे में गैस की समस्या लगातार होने पर लापरवाही ना बरतें और तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

आशा है आपको हमारी ये पोस्ट (Baby Health Care tips) पसंद आई होगी?

11 thoughts on “Baby Health Care: बेबी के पेट में बन जाए गैस, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे”

  1. Hello! Do you know if they make any plugins to help with SEO?
    I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not seeing very good results.

    If you know of any please share. Many thanks! You can read similar blog here:
    Sklep

    Reply
  2. After looking over a number of the articles on your web site, I seriously appreciate your way
    of writing a blog. I bookmarked it to my bookmark webpage list and will
    be checking back in the near future. Please
    check out my web site too and let me know what you
    think.

    My blog post … vpn coupon code 2024

    Reply

Leave a Comment