रोज़ाना प्राणायाम करके जीवन को खुशहाल और स्वस्थ बनाएं, जाने कैसे?

Written by Oye Zindagi Team

Updated on:

प्राणायाम एक तरह का व्यायाम है जिसमें व्यक्ति अपनी सांस को विशेष तरीके से अंदर खींचता है और फिर उसे बाहर छोड़ता है। इससे हम अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बेहतर विकल्प मान सकते हैं।

प्राणायाम के कई स्वास्थ्य लाभ हैं, लेकिन इसे सही तरीके से करने का ज्ञान होना आवश्यक है। सबसे अच्छा समय प्राणायाम करने के लिए सूर्योदय होता है। खाली पेट सूर्योदय के समय प्राणायाम करने से अधिक लाभ होता है।

जो लोग नियमित रूप से सुबह प्राणायाम करते हैं, वे पूरे दिन तनाव मुक्त रहते हैं और स्वस्थ भी महसूस करते हैं। तो चलिए जानते हैं प्राणायाम क्या है और इसके क्या-क्या लाभ हो सकते हैं।

प्राणायाम क्या है?

योग के विभिन्न प्रकार होते हैं, लेकिन सबसे आसान और फायदेमंद प्राणायाम योग होता है। यदि आप नियमित रूप से प्राणायाम का अभ्यास करते हैं तो आपको सर्दी-जुकाम की समस्या नहीं होगी और आपका इम्यून सिस्टम भी मजबूत होगा।

प्राणायाम के प्रकार | Types of Pranayama

प्राणायाम के प्रकार भी कई होते हैं। प्राणायाम के प्रमुख पाँच प्रकार निम्नलिखित हैं:

  1. अनुलोम विलोम प्राणायाम (Anulom Wilom) 
  2. भस्त्रिका प्राणायाम (Bhastrik) 
  3. कपालभाती प्राणायाम (Kapalbhati) 
  4. भ्रामरी प्राणायाम (Bhramari) 
  5. बाह्य प्राणायाम (Baahy)

प्राणायाम के फायदे | Benefits of Pranayam

आज कई लोग प्राणायाम को अपनाकर कई रोगों से मुक्ति पा रहे है और एक स्वस्थ जीवन जी रहे हैं। यह ना केवल आपको कई तरह के बिमारियों से बचाता है बल्कि साथ ही साथ पेट कम करने, डिप्रेशन से बचवा और कई तरह के लाभ भी पहुचता है। 

ये भी पढ़े : ब्लैक कॉफ़ी (Black Coffee) के फायदे और नुकसान

तो चलिए जानते हैं की कौन कौन से फायदे हैं प्राणायाम करने के : 

सर्दी ख़ासी से बचाव – खांसी, जुकाम और साइनस जैसी बीमारी से बचने के लिए व इससे relief पाने के लिए इंसान को regular भस्त्रिका प्राणायाम करना चाहिए । साइनस की इलाज के लिए भास्त्रिका प्राणायाम को सबसे best माना जाता है। 

वजन कम करे – अगर आपका weight बहुत ज्यादा हो गया हो या फिर आपका पेट ज्यादा निकल गया हो तो आपको regular प्राणायाम करना चाहिए इससे आपका weight loss भी होगा और पेट भी अंदर चला जायेगा।

तनाव से बचाए – कभी कभी ज्यादा पढ़ाई या काम के pressure की वजह से इंसान depression में चला जाता है और फिर वो depression की दवा लेने लगता है | Depression को दूर करने का सबसे बेहतर उपाय होता है “प्राणायाम” ये इंसान को depression से बाहर निकालता है। 

आँख और कान के लिए लाभदायक – अनुलोम विलोम (Anulom Wilom) को regular करने से इंसान तनाव, बुखार, आंख और कान के रोगों से बचा रहता है । इस प्राणायाम को रक्तचाप और मधुमेह के इलाज के लिए भी बेहतर माना जाता है। 

ये भी पढ़े : Anda Khane ke Fayde : अंडे खाने के है अनेक फायदे

प्रतिरोधक छमता मजबूत करे – Regular प्राणायाम करने से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार आता है और ये immune system को भी strong बनाता है। 

ह्रदय को स्वस्थ रखे – अनुलोम विलोम और भास्त्रिका जैसे प्राणायाम को regular करने से heart related problems में benefit मिलता है । इस प्राणायाम से body का blood circulation भी सही रहता है साथ ही body को भरपूर मात्रा में oxygen मिलता है। 

ध्यान लगाने में मदद करे – अनुलोम विलोम प्राणायाम करने से पूरे body में oxygen की आपूर्ति बढ़ जाती है जिससे इंसान खुद को शांत और शांतिपूर्ण महसूस करता है। इसे करने से brain भी sharp होता है। mind concentration को बढ़ाने के लिए भी ये प्राणायाम करना अच्छा होता है। 

झुर्रियां कम करे – Regular कपालभाती करने से इंसान के face पर एक अलग ही तरह की चमक आने लगती है। इसे करने से weight भी कम होता है और त्वचा की झुर्रियां यानि की wrinkles और आंखों के नीचे का dark circle भी दूर होता है।

फेफड़ों के लिए अच्छा है – Asthma and respiratory (सांस) से related कोई भी बीमारी के लिए प्राणायाम करना बहुत ही अच्छा होता है। Regular प्राणायाम करने lungs को राहत मिलती है।

अन्य लाभ – भ्रामरी प्राणायाम को regular करने से Mind & Brain को peace मिलती हैं। ये प्राणायाम क्रोध, चिंता, Stress और अनिद्रा जैसे problems से भी निजात दिलाता है। thyroid के इलाज के लिए भी भ्रामरी प्राणायाम को best माना जाता है।

3 thoughts on “रोज़ाना प्राणायाम करके जीवन को खुशहाल और स्वस्थ बनाएं, जाने कैसे?”

  1. Hi! Do you know if they make any plugins to help with
    SEO? I’m trying to get my website to rank for some targeted keywords but I’m not seeing
    very good results. If you know of any please share.
    Thank you! You can read similar article here: AA List

    Reply

Leave a Comment