अनानास के फायदे : औषधीय गुणों से भरपूर है ये फल

Written by Oye Zindagi Team

Updated on:

Ananas ke Fayde : अनानास एक खट्टा मीठा फल है जो अन्य फलों की तुलना में बेहतरीन है। यह फल विवाह और शादियों में आमतौर पर चटखारे के रूप में खाया जाता है। अनानास का फल स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

अनानास हमारे शरीर से विषैले तत्वों को निकालने में मदद करता है। इसके अलावा, यह विटामिन सी, प्रोटीन और पानी का बहुत अच्छा स्रोत है। इस फल में सभी प्रकार के लवण, विटामिन A, B और C प्रचुर मात्रा में होते हैं। गर्मियों के दिनों में अनानास हमें डिहाइड्रेशन से बचाने में सहायक होता है।

अनानास के फायदे (Ananas ke Fayde in Hindi)

पाइनएप्पल में कई फाइटोकेमिकल्स होते हैं जैसे कौमेरिक एसिड, फेरुलिक एसिड, क्लोरोजेनिक एसिड और एलेजिक एसिड। इसके साथ ही इसमें विटामिन A, B एवं C, मैंगनीज, थियामिन, राइबोफ्लेविन, पाइरिडोक्सिन, कॉपर और फाइबर जैसे आवश्यक पोषक तत्व भी काफी मात्रा में मौजूद होते हैं जो हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक होते हैं। एक अध्ययन में दावा किया गया है कि पाइनएप्पल कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की रोकथाम में भी काफी असरदार है।

पाइनएप्पल एक स्वादिष्ट और उत्तम फल है। दोपहर का समय इसे खाने के लिए सबसे उत्तम माना जाता है। किन्तु इसे खाने से पहले छीलने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है। तभी आपको पाइनएप्पल का तकरीबन 60% हिस्सा मिलता है। यह फल रसदार होने के साथ-साथ विटामिन सी, प्रोटीन और पानी का अच्छा स्रोत भी है। यह शरीर में पानी की कमी को पूरा करने के साथ-साथ शरीर को लू, हाई बीपी और गर्मी से बचाने में अहम भूमिका निभाता है।

ये भी पढ़े : विटामिन सी (Vitamin C) के स्त्रोत एंव फायदे

न्यूट्रिशन से भरपूर

अनानास कैलोरी में कम होते हुए भी विभिन्न पोषक तत्व से भरपूर हैं, क्योंकि इसके एक कप (165 ग्राम) अनानास के टुकड़ों में निम्नलिखित पोषक तत्व पाए जाते हैं:

न्यूट्रिशन मात्रा
कैलोरी 83
वसा 1.7 ग्राम
प्रोटीन 1 ग्राम
फाइबर 2.3 ग्राम
कार्ब्स 21.6 ग्राम
विटामिन बी6 डेली वैल्यू का 11% (डीवी)
विटामिन सी डेली वैल्यू का 88% (डीवी)
मैंगनीज डेली वैल्यू का 109% (डीवी)
कॉपर डेली वैल्यू का 20% (डीवी)
थायमिन डेली वैल्यू का 11% (डीवी)
फोलेट डेली वैल्यू का 7% (डीवी)
मैग्नीशियम डेली वैल्यू का 4% (डीवी)
नियासिन डेली वैल्यू का 5% (डीवी)
पोटेशियम डेली वैल्यू का 5% (डीवी)
पैंटोथेनिक एसिड डेली वैल्यू का 7% (डीवी)
राइबोफ्लेविन डेली वैल्यू का 4% (डीवी)
आयरन डेली वैल्यू का 3% (डीवी)

अनानास की तासीर

अनानास एक विदेशी फल होने के साथ-साथ यह बहुत ही स्वादिष्ट भी होता है। यह फल शादी-समारोह जैसे खास अवसरों पर चाट-मसाले के साथ बड़े मजे से खाया जाता है। भारत में अनानास का उत्पादन पूर्णिया (बिहार) और सहरसा के इलाकों में जुलाई से लेकर नवंबर तक होता है। इसके अलावा अनानास को कच्चा खाने के साथ-साथ जूस के रूप में भी उपयोग में लाया जाता है।

अनानास की तासीर ठंडी होती है जो शरीर को ठंडक प्रदान करती है। इसलिए, यह फल गर्मियों में बहुत ही लोकप्रिय होता है। इसका स्वाद खट्टा मीठा होता है जो इसे और भी खास बनाता है। अनानास के कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। इसमें एंजाइम, विटामिन सी और ए जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसलिए, अनानास को न केवल उसके स्वाद के लिए बल्कि इसके स्वास्थ्य लाभ के लिए भी खाया जाना चाहिए।

अनानास के औषधीय गुण

अनानास एक फल है जिसका सेवन न केवल स्वादिष्ट होता है बल्कि यह बेहद सेहतमंद भी होता है। अनानास के जूस में औषधीय गुण पाए जाते हैं जो पाचन क्रिया को सुधारते हैं और रोगों से लड़ने में मदद करते हैं।

अनानास के जूस में विटामिन ए और सी होते हैं जो हमारी आँखों के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। इसके अलावा, अनानास में ब्रोमेलेन नामक एंजाइम होता है जो सूजन और अन्य इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है। अनानास का नियमित सेवन आपकी पाचन शक्ति को बढ़ाता है जो आपको अपच, कब्ज, गैस जैसी समस्याओं से बचाता है।

अनानास में पाए जाने वाले विटामिन सी और ब्रोमेलेन बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। अनानास के जूस का सेवन जी मिचलाने, घबराहट और बीपी के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा, यह वजन कम करने में भी मदद करता है और हड्डियों को मजबूत बनाता है। अनानास का सेवन आपको मुंह में मौजूद बैक्टीरिया, और छालों जैसी समस्या को दूर करने में भी मदद करता है । इसके नियमित सेवन से मुंह/साँसो की दुर्गंध भी दूर होती है। अनानास मनुष्य में कैल्शियम और मैंगनीज की पूर्ति करके हड्डियों को भी मजबूती प्रदान करता है।

ये भी पढ़े : विटामिन डी (Vitamin D) के स्त्रोत एंव फायदे

अनानास कब न खाएं

ये एक स्वस्थ फल है जहां अनानास के फायदे अनेक है। लेकिन कुछ मामलों में अनानास के सेवन से बचना चाहिए।

मधुमेह वाले लोगों को अनानास से परहेज करना चाहिए क्योंकि इसमें शुगर होती है जो उनके लिए हानिकारक हो सकती है। इसके अलावा, अगर आपको अनानास खाने के बाद खुजली या जलन होती है, तो आपको इस फल से दूर रहना चाहिए। इसका मतलब है कि अनानास एलर्जी वाले लोगों के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है।

अगर आपके पास गुर्दे से संबंधित समस्या है या आपको गुर्दे की पथरी होती है, तो आपको अनानास खाने से बचना चाहिए। यह फल ओक्सलेट सामग्री से भरपूर होता है जो गुर्दों में पथरी के निर्माण को बढ़ा सकती है।

इसके अलावा, यदि आप गर्भवती हैं, तो आपको अनानास खाने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। इस फल में पाया जाने वाला ब्रोमेलेन गर्भावस्था में असुरक्षित हो सकता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए खतरनाक हो सकता है।

5 thoughts on “अनानास के फायदे : औषधीय गुणों से भरपूर है ये फल”

Leave a Comment